Tag: ग़ज़ल

बुलाती है मगर जाने का नईं

बुलाती है मगर जाने का नईंये दुनिया है इधर जाने का नईं मेरे बेटे किसी से इश्क़ करमगर हद से…